स्वागत

आप का हार्दिक स्वागत है , पधारने के लिए धन्यवाद!

Saturday, April 6, 2013

'समाजीकरण में शिक्षा का योगदान' पर अतिथि व्याख्यान संपन्न।

'समाजीकरण में शिक्षा का योगदान' पर अतिथि व्याख्यान संपन्न।

हैदराबाद,
04-04-2013.

हिंदी प्रचारक प्रशिक्षण महाविद्यालय, दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा में आज हिंदी प्रचारक प्रशिक्षण महाविद्याल जनगाँव  के प्राचार्य डॉ.उदय शर्मा ने 'समाजीकरण में शिक्षा का योगदान' पर अतिथि व्याख्यान दिया।



  डॉ.उदय शर्मा ने प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए अपने व्याख्यान में बालक के समाजीकरण प्रक्रिया के बारे में समझाया। आधुनिक समाज का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि आज कल माता-पिता  छोटे-छोटे बच्चों को भी छोड़कर धन आर्जन  के लिए चले जाते है। इससे पता चलता है कि  परिवार अपना योगदान को पूरा नहीं कर पा रहा है।

           





 डॉ.उदय शर्मा ने आगे कहा कि तकनीकी की ओर  बच्चों का अधिकतम ध्यान होने के कारण अधिक से अधिक खेल भी कम्प्यूटर पर खेल रहे हैं। उससे खेल मैदान में होनेवाले समाजीकरण का अवसर समाप्त हो जाता है। 

          
 अतिथि वक्ता ने प्रशिक्षणार्थियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि  अध्यापन व्यवसाय इस दृष्टी से श्रेष्ठ है कि  अध्यापक राष्ट्र के चरित्र का निर्माण करता है। अध्यापक के पास ऐसा धन है कि न भाई बाँट  सकता ,  न चोर चुरा सकता, न राजा अपहरण कर सकता। 
      
         







 आरंभ  में अतिथि वक्ता का परिचय प्रशिक्षाणार्थी  नाजिया बेगम ने दिया। अध्यक्षीय उद्बोधन में महाविद्यालय के प्राचार्य प्रमोद परीट बालक का समाजीकरण की विशेष संभावनाओं पर प्रकाश डाला।
  
            





इस व्याख्यान में मुख्य वक्ता ने प्रशिक्षणार्थियों की जिज्ञासाओं का भी समाधान किया। इस कार्यक्रम में प्रवक्ता गण  राधा कृष्ण मिरियाला, श्रीमती जुजु  गोपीनाथ एवं सभी  प्रशिक्षाणार्थी गण शामिल है।
अंत में प्रशिक्षण महाविद्यालय की प्रवक्ता डॉ लक्ष्मी उमाराणी ने धन्यवाद ज्ञापित की। 



हैदराबाद , 04-04-2013 .
   हिंदी प्रचारक प्रशिक्षण महाविद्यालय ,दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा हैदराबाद में "समाजीकरण में शिक्षा का योगदान " विषयक अतिथि व्याख्यान  आयोजित की गई। इस आयोजन की अध्यक्षता प्राचार्य प्रमोद परीट  ने की।

स्वतंत्र वार्ता  07-04-2013.


हिंदी मिलाप 07-04-2013.


स्रवंति अप्रैल 2013